अब्दुल समद अंसारी का टिकट कटने से बनारस के बुनकर खफ़ा, फाड़े शिवपाल के पोस्टर

सिद्धांत मोहन, TwoCircles.net

Abdul Samad Poster

वाराणसी: समाजवादी पार्टी मुखिया मुलायम सिंह यादव द्वारा कल जारी की गयी प्रत्याशियों की सूची के बाद प्रदेश की राजनीति में भूचाल आया हुआ है, लेकिन इसी के साथ वाराणसी के शहर उत्तरी के प्रत्याशी अब्दुल समद अंसारी का टिकट काटे जाने से बनारस का बुनकर समुदाय समाजवादी पार्टी से बेहद खफा है.

गुरूवार को समद अंसारी के समर्थको ने बड़ी बाजार और आस-पास के मुस्लिमबहुल इलाकों में समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव के पोस्टर पर गुस्सा उतारा.

इस प्रत्याशी सूची के विरोध शहर के चौकाघाट स्थित बुनकर समाज के बाईसी तंजीम के सरदार निजामुद्दीन के घर सभी तंजीम के सरदारों ने एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर बुनकरों और मुसलमानों की मंशा सामने रखी.

ज्ञात हो कि साल 2007 में अब्दुल समद अंसारी शहर उत्तरी सीट से विधायक चुने गए थे. बनारस की सभी आठों विधानसभा सीटों में से शहर उत्तरी सीट पर बुनकर समुदाय की बहुलता है.

Bunkar PC

प्रेस कांफ्रेंस में पाँचों तंजीमों के सरदार मोहम्मद मुर्तजा ने कहा, ‘पार्टी के कुछ नेताओं के चलते अब्दुल समद अंसारी 2012 में चुनाव हार गये. इस बार मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और सपा सुप्रीमो ने उनपर विश्वासकर टिकट पक्का किया, लेकिन अचानक उनका टिकट काटकर पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने हम बुनकरों को आहत किया है.’

यही नहीं चौकाघाट और आसपास के मुस्लिमबहुल व बुनकरबहुल मोहल्लों में लगे शिवपाल यादव के पोस्टर को फाड़ दिया गया. कई पोस्टरों में शिवपाल यादव के चेहरे पर टेप लगाकर चेहरा ढंक दिया गया. और इन मोहल्लों में लगभग सभी पोस्टरों पर शिवपाल यादव के पोस्टरों पर टेप लगा दिया गया.

गौरतलब है कि कल जारी की गयी लिस्ट में डा. ओपी सिंह का नाम है, जिनके बारे में ऐसा माना जा रहा है कि वे ओमप्रकाश सिंह का करीबी हैं.

SHARE