Sunday, February 26, 2017
Home हिन्दी

हिन्दी

यूपी चुनाव : पीतल नगरी में सियासी उलट-फेर की दस्तक!

अफ़रोज़ आलम साहिल, TwoCircles.net मुरादाबाद : देश की पीतल नगरी मुरादाबाद में सियासत का समीकरण सपा और भाजपा दोनों के लिए विपरित दिखाई पड़ रही है....

शहीद-ए-आज़म भगत सिंह से क्यों डरता है आरएसएस?

TwoCircles.net News Desk नई दिल्ली : आज़ादी के मुजाहिदों में सितारों की तरह चमकने वाली देश और दुनिया में प्रख्यात क्रन्तिकारी युवा दिलों की धड़कन...

मैं पूरी संसद पर थूक दूंगा – वेद प्रताप वैदिक

By TCN News, कट्टरपंथी-आतंकवादी और जमात-उद-दावा के मुखिया हाफ़िज़ सईद से मुलाक़ात कर चर्चा में आए वेद प्रताप वैदिक ने इस बार अपने सिर पर नयी मुसीबत मोल ले ली है. अजमेर साहित्य उत्सव के आखिरी दिन शिरकत कर रहे वैदिक ने कहा है कि यदि संसद सदस्य उनके खिलाफ़ राष्ट्रदोह का प्रस्ताव लाते हैं तो मैं पूरी संसद पर थूक दूंगा.

मुश्किल होती डेल्टा मेघवाल के इंसाफ़ की राह, कल होगा प्रदर्शन

अफ़रोज़ आलम साहिल, TwoCircles.net दिल्ली: डेल्टा मेघवाल को मिल सकने वाले इंसाफ़ की उम्मीदों पर अभी से ही ग्रहण लगना शुरू हो गया है. सरकारों...

खेत से मूली उखाड़ने पर दलित की छाती में दाग दी गोली

आस मोहम्मद कैफ, TwoCircles.net शामली: जनपद के कांधला थानाक्षेत्र का एक गांव हुरमंजपुर दबंगों की गरीबों पर ज़ुल्म की दास्तान कह रहा है. यहां खेत...

विदेशियों के लिए सरोगेसी पर पाबंदी, भारतीयों को भी अब एक ही बार मिलेगी...

By फ़हमिना हुसैन, TwoCircles.net नई दिल्ली: दिल्ली के एक अस्तपताल में एक मासूम अपनी मां के लिए तरस रहा है. क्योंकि सरोगेसी के ज़रिए इस...

‘गुजरात के ‘विनाश मॉडल’ को ध्वस्त करेगी दलित-मुस्लिम एकता’

TCN News लखनऊ : ऊना, गुजरात में गौरक्षकों द्वारा दलितों की पिटाई के बाद ‘गाय की पूंछ तुम रखो, हमको हमारी ज़मीन दो’ के नारे...

क्या नजमा हेपतुल्ला ने दबाव में चुना मुस्लिमविहीन आदर्श ग्राम?

By मो. इस्माइल खां, TwoCircles.net, भोपाल: नरेन्द्र मोदी सरकार की वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री नज़मा हेपतुल्ला ने जब फंदा कलां गाँव को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत ‘गोद’ लिया, उस वक्त भी यह अन्य द्वारा किये जा रहे तड़क-भड़क से भरे आयोजनों सरीखा लग रहा था. लेकिन इस गाँव को गोद लिए जाने की पीछे की सचाई से यदि रू-ब-रू हुआ जाए तो इस बात का भान हो आता है कि भगवा समाज में मुस्लिम समुदाय की क्या हैसियत रह गयी है, वह भी उस वक्त जब कबिनेट का एक वरिष्ठ मंत्री भी इस समुदाय से ताल्लुक रखता है.

कानून तोड़ते हुए योगी आदित्यनाथ ने रैली की

By TCN News, लखनऊ: भड़काऊ भाषण देने में जवाब तलब किए जाने और चुनाव आयोग की रोक के बावजूद भाजपा नेता योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ की रैली में हिस्सा लिया और जनसमूह को संबोधित भी किया. लव जिहाद को लेकर भड़काऊ वक्तव्य देने के फलस्वरूप चुनाव आयोग ने योगी की इस रैली पर रोक लगा दी थी, लेकिन योगी ने कानून को धता बताते हुए न सिर्फ़ योगी आदित्यनाथ ने रैली की बल्कि उन्होंने प्रशासन पर सियासी दबाव में काम करने का आरोप भी लगा दिया.

क्यों बिहार चुनाव के नतीजे लेफ्ट के लिए आशाजनक नहीं हैं?

अफ़रोज़ आलम साहिल, TwoCircles.net पटना: बिहार के चुनावी नतीजों के साथ वामदलों की अहमियत और उनके प्रदर्शन पर चर्चा का बाज़ार गर्म है. जहां यह...

बोतल की सख्ती : एक क़ानून या एक दिशा?

अरफ़ीना खानम बिहार में खुलेआम नशोखोरी और शराब पर पूर्ण रूप से पाबन्दी सरकार की अच्छी सोच व सही क़दम का नतीजा है. जब राज्य...

रून्नी-सैदपुर : जहां मुस्लिम उम्मीदवार ‘वोट-कटवा’ हैं

अफ़रोज़ आलम साहिल, TwoCircles.net मुज़फ्फ़रपुर: यहां से तक़रीबन 35 किलोमीटर दूर सीतामढ़ी ज़िला के ‘गेटवे’ के रूप में जाना जाने वाले रून्नी-सैदपुर में इस बार...

नरकंकालों पर खड़ा होता कनहर बांध – 3

By सिद्धान्त मोहन, TwoCircles.net, कैसे केवल उत्तर प्रदेश की ही नहीं, झारखंड और छत्तीसगढ़ की भी सरकारें आदिवासियों की समस्याओं को मुआवज़े की कीमत पर तौल रही हैं? क्या होगा कनहर बांध बनने से और राज्यों के बीच किस तरह तनाव पसरा हुआ है... [इस सीरीज़ की पिछली कहानियांअकथ कहानी कनहर की, नरकंकालों पर खड़ा होता कनहर बांध – 1 और नरकंकालों पर खड़ा होता कनहर बांध -2] सोनभद्र: कनहर सिंचाई परियोजना पर ज़मीनी हकीकत को लेकर बहुत सारी सचाईयां उजागर हो चुकी हैं. विकास के नाम पर उत्तर प्रदेश की सपा सरकार जिस तरह से किसानों और आदिवासियों की अमूल्य संपदाओं से खेल रही है, ज़रूरी है कि पार्टी के रिपोर्ट कार्ड में वह भी शामिल हो.

गांव का हुलेसवा बना डॉ. हुलेश मांझी

अफ़रोज़ आलम साहिल, TwoCircles.net पटना: डॉ. हुलेश मांझी बिहार के महादलितों के लिए एक ऐसा नाम बन चुके हैं, जो ज़िन्दगी में ऊंचाईयां छूने का...

बीजेपी के अकाउंट में मोदी का चंदा

Afroz Alam Sahil, TwoCircles.net भारतीय जनता पार्टी यानी बीजेपी उद्योगपतियों, कारोबारियों व व्यापारियों की पार्टी कही जाती है. बड़े-बड़े उद्योगपति, कारोबारी और व्यापारी हमेशा से...

अलैर एनकाउन्टर केस : “यह कोई मुठभेड़ नहीं थी, यह मर्डर था!”

राक़िब हमीद, TwoCircles.net रियासतनगर, हैदराबाद – सईद इम्तियाज़ अली उस वक़्त अपने घर में थे जब पिछले साल उन्हें 7 अप्रैल को किसी ने फोन किया और फेसबुक चेक करने को कहा. फेसबुक पर आ रही खबरों के सत्यापन के लिए इम्तियाज़ ने न्यूज़ चैनल लगाए. खबर सही थी. तेलंगाना के नालगोंडा में एक पुलिस मुठभेड़ हुई थी. इस मुठभेड़ में इम्तियाज़ का भाई अमज़द मारा गया था.

गौरक्षा, दलित उत्पीड़न और धर्म परिवर्तन : बुरे हाल में मध्य प्रदेश

जावेद अनीस हाल के दिनों में गौरक्षा के नाम पर दलितों और अल्पसंख्यकों पर हमले और उन्हें आतंकित के मामले बढ़े हैं. इसी कड़ी में...

दिल्ली पहुंची कचरी की आवाज़, जांच समिति ने किया दमन का विरोध

By TCN News इलाहाबाद, १६ अक्टूबर : यहाँ की करछना तहसील के कचरी गाँव में बीते महीने की 9 तारीख को...

अमित शाह ने पूरी की शहाबुद्दीन की मुराद!

अफ़रोज़ आलम साहिल, TwoCircles.net पटना: यह सुनने में थोड़ा अजीब ज़रूर लगेगा. मगर यह बिहार के नतीजे का बेहद दिलचस्प सच है. भाजपा अध्यक्ष अमित...

‘राम के नाम पर सपा-भाजपा विधानसभा चुनाव को केंद्रित करना चाहती हैं’

TCN News लखनऊ : मोदी सरकार द्वारा अयोध्या में रामायण म्यूजियम बनाने की घोषणा के साथ ही अखिलेश सरकार द्वारा भी अयोध्या में अन्तर्राष्ट्रीय रामलीला...